कृषि क्षेत्र में बुनियादी ढांचे के लिए 1 लाख करोड़ फंड जारी करेंगे बैंक

कृषि समाचार
Share with Social Media

केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने बैंकों से आह्वान किया है कृषि क्षेत्र में आवश्यक बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए 1 लाख करोड़ रुपये के कृषि अवसंरचना कोष (एआईएफ) को सक्रीय रूप से बढ़ावा दिया जाएं। एआईएफ फसल कटाई के बाद प्रबंधन बुनियादी ढांचे और सामुदायिक कृषि परिसंपत्तियों के निर्माण के लिए 8 जुलाई 2020 को शुरू की गई एक वित्तपोषण सुविधा है। कृषि अवसंरचना कोष के तहत वित्तीय वर्ष 2025-26 तक 1 लाख करोड़ रुपये का वितरण किया जाना है, जिसमें 2032-33 तक ब्याज छूट और क्रेडिट गारंटी सहायता प्रदान की जाएगी।

कृषि सचिव मनोज आहूजा ने एक आधिकारिक या में कहा कि कृषि अवसंरचना कोष के तहत बैंकों के लिए भारत (बैंक्स हेराल्डिंग एक्सेलेरेटेड रूरल एंड एग्रीकल्चर ट्रांसफॉर्मेशन) नामक एक नया अभियान शुरू किया गया है। अभियान का लक्ष्य 7,200 करोड़ रुपये के वित्त पोषण लक्ष्य को प्राप्त करने के साथ ही बैंकों को देश में कृषि बुनियादी ढांचा परियोजनाओं की विशाल क्षमता का दोहन करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

कृषि अवसंरचना कोष के संयुक्त संयुक्त सचिव सैमुअल प्रवीण कुमार ने योजना को बढ़ावा देने के लिए बैंकों की सक्रिय भागीदारी और समर्थन की सराहना की। जिसके कारण भारत में 31,850 अधिक कृषि बुनियादी ढांचा परियोजनाओं की स्थापना हुई है। इन परियोजनाओं को एआईएफ योजना के तहत कुल 24,750 करोड़ रुपये की ऋण राशि से वित्तपोषित किया गया है, जिसका कुल परिव्यय 42,000 करोड़ रुपये है।