चावल निर्यात पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा सकता है भारत

मुख्य समाचार
Share with Social Media

 दुनिया का सबसे बड़ा चावल निर्यातक भारत चावल की अधिकांश किस्मों के निर्यात पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार सभी गैर-बासमती चावल के निर्यात पर प्रतिबंध लगाने की योजना पर चर्चा कर रही है।

सरकार यदि गैर-बासमती चावल के निर्यात पर रोक लगाती है, तो इस फैसले से कुल 80 फीसदी चावल का निर्यात इससे प्रभावित होगा। सरकार के इस फैसले से घरेलू बाजार में चावल की बढ़ती कीमतों पर अंकुश लगेगा। हालाँकि, इससे दुनियाभर में चावल की कीमतों में तेज उछाल देखने को मिल सकता है। गौरतलब है कि फ़िलहाल अल नीनो के असर के चलते दुनियाभर के बाजारों में चावल की कीमतों में उछाल देखने को मिल रहा है। चावल की कीमतें 11 साल के उच्चतम स्तर पर हैं।