UP Weather Update : 4 संभागों सहित 30 जिलों में अगले 72 घंटे तक भारी बारिश, रेड-ऑरेंज अलर्ट जारी, नदियों का जलस्तर बढ़ा, 19 जुलाई से बदलेगा मौसम,

मौसम समाचार
Share with Social Media

बंगाल की खाड़ी से आ रही पूर्वी हवा और अरब सागर सारी पछुआ हवा की वजह से मौसम में महत्वपूर्ण बदलाव हो रहे हैं। हवाओं के साथ आ रही नमी और मानसून के सक्रिय अवस्था सहित दो मौसम प्रणाली सक्रिय है। जिसके कारण 45 से अधिक क्षेत्रों में भारी बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

फिर से मौसम बदल रहा है। आज अधिक बारिश देखने को मिलेगी। सुबह से बादल छाए हुए हैं। बादल गरजने की संभावना जताई जा रही है। 19 जुलाई को अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। वहीं 18 जुलाई तक उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई ।है 19 जुलाई से इन क्षेत्रों में मानसून के कमजोर होने का पूर्वानुमान जारी किया गया है।

मौसम प्रणाली सक्रिय

बंगाल की खाड़ी से आ रही पूर्वी हवा और अरब सागर सारी पछुआ हवा की वजह से मौसम में महत्वपूर्ण बदलाव हो रहे हैं। हवाओं के साथ आ रही नमी और मानसून के सक्रिय अवस्था सहित दो मौसम प्रणाली सक्रिय है। जिसके कारण इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। दक्षिण उत्तर प्रदेश के कुछ भागों में चक्रवाती हवा का क्षेत्र बना हुआ है। एक चक्रवाती दबाव हरियाणा और उसके आसपास में भी स्थित है जबकि मध्य पाकिस्तान के ऊपर एक पश्चिमी विक्षोभ भी निर्मित हुआ है। तीन मौसम प्रणाली सहित मानसून की सक्रियता के कारण 19 जुलाई तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश सहित प्रदेश के दक्षिणी हिस्से में भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है। बिजली कड़कने के साथ वज्रपात की भी चेतावनी जारी की गई है।

नदियों का जलस्तर बढ़ा, बाढ़ के हालात

बीते 24 घंटे में सबसे अधिक बारिश मुरादाबाद में रिकॉर्ड की गई है। इसके अलावा इटावा, मैनपुरी, कन्नौज, अलीगंज, कासगंज, मैनपुरी खीरी, महाराजगंज, फतेहपुर, और बिजनौर में भी बारिश देखने को मिली है। तेज रफ्तार से हो रही बारिश के साथ ही कई क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति भी निर्मित हो गई है। कई नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। 13 जुलाई को दोपहर 3:00 से 4:00 बजे तक बागपत और गाजियाबाद के मध्य यमुना नदी के किनारे अलीपुर तटबंध से रिसाव की सूचना मिल रही थी। इसके अलावा शारदा नदी का जलस्तर खतरे के निशान के करीब पहुंच गया है जबकि बुलंदशहर के नरोरा में गंगा अपने खतरे के निशान के ऊपर बह रही है। इतना ही नहीं बदायूं के कछला ब्रिज पर गंगा और मुजफ्फरनगर के मावी में यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के ऊपर पहुंच गया ।है ऐसे में कई गांव में बाढ़ की स्थिति निर्मित हो सकती है। भारी बारिश को देखते हुए लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है।

इन क्षेत्रों में वज्रपात का येलो अलर्ट

आगरा, अलीगढ़, अमरोहा, औरैया, इटावा, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, फिरोजाबाद, गौतम बुध नगर, हापुर, गाजियाबाद, हमीरपुर, हाथरस, जालौन, कानपुर में गिरने की संभावना जताई गई है। इसके अलावा ललितपुर, महोबा, मैनपुरी, मेरठ,, मथुरा मिर्जापुर, प्रयागराज, संभल, शामली और सोनभद्र में भी गरज चमक के साथ वज्रपात की चेतावनी जारी की गई है।

3 thoughts on “UP Weather Update : 4 संभागों सहित 30 जिलों में अगले 72 घंटे तक भारी बारिश, रेड-ऑरेंज अलर्ट जारी, नदियों का जलस्तर बढ़ा, 19 जुलाई से बदलेगा मौसम,

Comments are closed.